आपका शहर Close

चंडीगढ़+

जम्मू

दिल्ली-एनसीआर +

देहरादून

लखनऊ

शिमला

जयपुर

उत्तर प्रदेश +

उत्तराखंड +

जम्मू और कश्मीर +

दिल्ली +

पंजाब +

हरियाणा +

हिमाचल प्रदेश +

राजस्थान +

छत्तीसगढ़

झारखण्ड

बिहार

मध्य प्रदेश

पानी के लिए बाल्टी, घड़ा फोड़ा

Hamirpur

Updated Wed, 23 May 2012 12:00 PM IST
मई का महीना, उस पर पारा 44 डिग्री सेल्सियस के इर्द-गिर्द मंडरा रहा है। ऐसे में बिजली संकट कोढ़ में खाज का काम कर रही है। बिना बिजली के लोगों को हलक तर करने के पानी तक नसीब नहीं हो रहा है। ऐसी गर्मी में लोगों के सब्र का बांध टूट चुका है। महिलाएं चौका-चूल्हा छोड़कर जलसंस्थान और बिजली घर में धावा बोल रही हैं वहीं पुरुष भी महिलाओं के कंधे से कंधा मिलाकर साथ दे रहे हैं। बिजली संकट से ऊब चुके लोगों को पुलिस भी समझा नहीं पा रही है। संबंधित विभाग के अधिकारियों के आश्वासन पर ही किसी तरह लोगों का गुस्सा शांत हुआ और घर लौट गए।
गोहांड (हमीरपुर)। बिजली के साथ ही पेयजल की समस्या गहराने से नगर की सैकड़ों महिलाओं और पुरुषों ने खाली घड़े और बर्तन लेकर जलसंस्थान कार्यालय पर प्रदर्शन किया। चूल्हा चौका छोड़कर महिलाओं और पुरुषों ने सबस्टेशन पहुंचकर सारे फीडर बंदकर हैंडल छीन लिया। लोगों के तेवर देखकर वहां पर तैनात दोनों कर्मचारी कंट्रोल रूम में ताला डालकर वहां से खिसक गए। सूचना मिलने पर एसओ जरिया एसके पटेल ने मौके पर पहुंचे और लोगों को शंात कराया। इस मामले में पावर कारपोरेशन ने दो दिन में जलसंस्थान की बिजली व्यवस्था दुरुस्त करने का आश्वासन दिया है।
कसबे की पेयजल व्यवस्था करीब एक पखवारे से ध्वस्त हो गई है। ऐसी भीषण गर्मी में लोगों मेें एक एक बाल्टी पानी के लिए मारामारी मची है। हलक तर करने के लिए सैकड़ों लोग जलसंस्थान पर पहुंच गए। महिलाएं अपने हाथों में खाली घड़े, बाल्टी तथा गंदे कपड़े लेकर प्रदर्शन किया। प्रदर्शन कारियों का उग्र रूप देखकर संस्थान कर्मियों के हाथ पांव फूल गए। तैनात कर्मचारी रामआसरे साहू का घेराव कर पानी मांगा। इस पर उन्होंने बताया कि संस्थान को पर्याप्त बिजली न मिलने की वजह से पानी नहीं मिल रहा है। इसके बाद आक्रोशित भीड़ ने जल संस्थान से करीब तीन सौ मीटर दूर स्थित विद्युत सब स्टेशन पर धावा बोल दिया। वहां मौजूद एसएसओ ध्रूराम पाल व शिवशरन से तीखी नोंकझोंक हुई। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने सारे फीडर बंदकर हैंडल छीन लिया। दोनो कर्मचारी कंट्रोल रूम में ताला डालकर वहां से खिसक लिए। सूचना मिलने पर एसओ जरिया एसके पटेल ने मौके पर पहुंचकर गुस्साएं पुरुष व महिलाओं को समझाकर शांत कराया तथा लाइन जोड़ने वाला हैंडल वापस दिलवाया। बिजली समस्या को लेकर प्रदर्शनकारियों के सामने ही एसओ ने फोन से अवर अभियंता से बात की। अवर अभियंता ने दो दिन में जल संस्थान की विद्युत आपूर्ति चिकासी फीडर से अलग कर नगर फीडर से जोड़ने का आश्वासन दिया। गौरतलब है कि दर्जनों गांवो को आपूर्ति करने के अलावा चिकासी फीडर की लंबाई बहुत अधिक है। जिस कारण प्राय: फाल्ट होते रहते हैं। प्रदर्शन कारियों में दृगपाल सिंह, हरिश्चंद्र साहू, कृपाल सिंह, लाल दीवान, नरेश कुमार, मोहनदास, शिवराम,चंद्रशेखर सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे।
  • कैसा लगा
Comments

स्पॉटलाइट

लव लाइफ होगी और भी मजेदार, रोज खाएं ये चीज

  • रविवार, 24 सितंबर 2017
  • +

जूते, पर्स या जूलरी ही नहीं, फोन के कवर भी बन गए हैं फैशन एक्सेसरीज

  • रविवार, 24 सितंबर 2017
  • +

BSF में पायलट और इंजीनियर समेत 47 पदों पर वैकेंसी, 67 हजार तक सैलरी

  • रविवार, 24 सितंबर 2017
  • +

इन तीन चीजों से 5 मिनट में चमकने लगेगा चेहरा

  • रविवार, 24 सितंबर 2017
  • +

नवरात्रि 2017: इस बार वार्डरोब में नारंगी रंग को करें शामिल, दीपिका से लें इंसपिरेशन

  • रविवार, 24 सितंबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!