आपका शहर Close

खमरिया में बड़ा राशन घोटाला

Bhadohi

Updated Sun, 02 Sep 2012 12:00 PM IST
खमरिया में बड़ा राशन घोटाला
ज्ञानपुर। खमरिया नगर पंचायत की सार्वजनिक वितरण प्रणाली में बड़े राशन घोटाले की गूंज सुनाई दी है। जांच में लगभग डेढ़ हजार राशन कार्ड फर्जी पाए जाने के बाद जिले के आला हाकिम भी भौचक रह गए हैं। हालांकि जांच अभी चल रही है। माना जा रहा है कि गरीबों के राशन पर डाका डालने के इस खेल की जांच तह तक पहुंची तो कई कांक्रीट हाथ लग सकते हैं। फिलहाल तीन निरीक्षकों की तफ्तीश के बाद रिपोर्ट डीएसओ को सौंप दी गई है। डीएसओ के मुताबिक कुछ और जांच की जा रही है। हालांकि जिलाधिकारी अमृत त्रिपाठी ने असलियत जानने के लिए इस मामले की एडीएम से व्यक्तिगत तौर पर जांच कराने की बात कही है।
खमरिया नगर पंचायत में सार्वजनिक वितरण प्रणाली में गड़बड़ी की जड़ें काफी अंदर तक हैं। नगर की कोटे की दस दुकानों से जुड़े कार्डधारकों के डोर-टू-डोर सत्यापन में लगभग डेढ़ हजार राशन कार्ड गलत पाए गए हैं। गरीबों की रोटी पर बेहद सफाई से की गई चोट का असर इतना अंदर तक है कि जांच के दौरान कई पेचदगियां सामने आ जा रही हैं। सैकड़ों कार्ड ऐसे लोगों के नाम बने हैं, जो वास्तव में हैं ही नहीं या पात्र लोगों के नाम पर बने कार्ड का फायदा अपात्र उठा रहे हैं। ऐसे कार्डों पर हर माह हजारों कुंतल राशन की उठान होती रही है। उधर उगापुर स्थित गोदाम के एक अधिकारी का कहना है कि खमरिया की दुकानों को आवंटन के मुताबिक अनाज दिया जाता रहा है। नगर पंचायत में राशन कार्डों में बड़े पैमाने पर फर्जीवाड़े की शिकायत उठने के बाद जिलापूर्ति अधिकारी ने कार्डों की जांच करवाई। तीन आपूर्ति निरीक्षकों की टीम ने कार्डों का डोर-टू-डोर सत्यापन किया। इसके बाद गड़बड़ी की जो तस्वीर उभरकर सामने आई उसे देखकर अधिकारियों के पैरों तले जमीन खिसक गई। बकौल डीएसओ राजन गोयल गड़बड़ी हुई है। पात्रों के नाम पर बने कार्ड का लाभ अपात्र उठा रहे हैं। जटिलता के कारण ऐसे मामले की जांच सिर्फ डोर-टू-डोर सत्यापन से ही संभव हो सकती है। आपूर्ति निरीक्षक ईश्वरी नारायण श्रीवास्तव, रुचि मिश्रा और लिपिक योगेश चंद्र उपाध्याय की जांच में हर कोटे की दुकान पर बीपीएल और अंत्योदय कार्डों में गड़बड़ी सामने आई है। मघईपुर कोटे की दुकान पर 181 में से 151 कार्ड सत्यापन के दौरान नहीं पाए गए। इसके अलावा भजईपुर में 155 कार्ड गड़बड़ मिले। वार्ड संख्या 13 की साधन सहकारी समिति के 170 में से 106 कार्ड, मुख्य बागीचा के 124 में से 85, मझगवां में 183 में से 131 गलत पाए गए हैं। अन्य दुकानों पर भी जांच में फर्जी राशन कार्ड मिले हैं।

इनसेट
एडीएम से कराई जाएगी जांच: जिलाधिकारी
जिलाधिकारी अमृत त्रिपाठी ने कहा कि यह मामला संज्ञान में आया है, लेकिन जब तक पूरी गहराई तक जांच नहीं हो जाती, कुछ कहा नहीं जा सकता। बकौल श्री त्रिपाठी इस मामले की पूरी जांच एडीएम से करवाई जाएगी। इस मसले पर विभागीय स्तर से कई बातें सामने आईं, लेकिन वास्तविकता के लिए तह तक जाना जरूरी है।

इनसेट
कार्रवाई नहीं हुई तो दाखिल करूंगा पीआईएल
ज्ञानपुर। समाजवादी पार्टी ब्राह्मण सभा के जिलाध्यक्ष धमेंद्र कुमार मिश्र पप्पू ने डोर-टू-डोर सत्यापन के बाद डीएसओ को सौंपी गई रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की मांग की है। उन्होंने कहा कि इतनी गड़बड़ी होने के बाद कार्रवाई की जानी चाहिए। ऐसा न होने पर उन्होंने पीआईएल दाखिल करने की चेतावनी दी है।
Comments

Browse By Tags

ration scam

स्पॉटलाइट

ज्यादा वोट के बावजूद सपना चौधरी क्यों हुई Bigg Boss से Out, 3 बड़े कारण

  • शनिवार, 25 नवंबर 2017
  • +

90 बॉर्न किड्स के लिए बुरी खबर, बंद हो रहा है आपका ये फेवरेट चैनल

  • शनिवार, 25 नवंबर 2017
  • +

दूसरे बच्चे पर बोलीं रानी मुखर्जी, 'कोशिश तो बहुत की पर लगता है बस मिस हो गई'

  • शनिवार, 25 नवंबर 2017
  • +

Bigg Boss 11: ये क्या! तौलिया पहन सबके सामने आ गईं अर्शी खान, वीडियो वायरल

  • शनिवार, 25 नवंबर 2017
  • +

शाहिद कपूर की बीवी का ये अंदाज जीत लेगा आपका दिल, नीले रंग की साड़ी में दिखीं स्टाइलिश

  • शनिवार, 25 नवंबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!