आपका शहर Close

चंडीगढ़+

जम्मू

दिल्ली-एनसीआर +

देहरादून

लखनऊ

शिमला

उत्तर प्रदेश +

उत्तराखंड +

जम्मू और कश्मीर +

दिल्ली +

पंजाब +

हरियाणा +

हिमाचल प्रदेश +

छत्तीसगढ़

झारखण्ड

बिहार

मध्य प्रदेश

राजस्थान

निर्धारित से कम कीमत पर गेहूं न बेचें किसान

Bhadohi

Updated Thu, 31 May 2012 12:00 PM IST
ज्ञानपुर। गेहूं क्रय केंद्रों पर भीड़ की वजह से आढ़तियों की शरण ले रहे किसानों को ठगाने की गुंजाइश बढ़ गई है। आढ़तिये निर्धारित मूल्य से कम पर गेहूं खरीद के लिए किसानों को मजबूर करने की फिराक में हैं। किसानों के साथ हो सकने वाली धोखाधड़ी की आशंका प्रशासन को भी है। शायद यही वजह है कि प्रशासन के अधिकारी आढ़तियों को गेहूं बेच रहे किसानों से भी गाहे-बगाहे सीधे संपर्क साध रहे हैं।
जिले में 11 आढ़तिये पंजीकृत हैं, लेकिन गेहूं की खरीद सिर्फ दो आढ़तिये ही कर रहे हैं। सरकार की ओर से गेहूं का खरीद मूल्य 1285 रुपये प्रति कुंतल निर्धारित किया गया है। इसी भाव से आढ़तियों को भी गेहूं खरीदना है। इसमें उन्हें सरकार की ओर से ढाई फीसदी कमीशन दिया जाएगा। लेकिन, यह भाव आढ़तियों को कम लग रहा है। उनका कहना है कि ट्रक पर लादकर मिर्जापुर अथवा वाराणसी के एफसीआई गोदाम पर किसानों से खरीदे गए गेहूं को पहुंचाना और वहां के लोकल आढ़तियों के बीच लंबी लाइन लगाकर गेहूं जमा करना चुनौतीपूर्ण काम है और इसके लिए ढाई फीसदी का कमीशन उन्हें कम पड़ रहा है। इधर सरकार क्रय केंद्रों पर गेहूं बेचने वालों की भारी भीड़ के चलते किसानों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। क्रय केंद्रों की भीड़ से बचने के लिए किसान आढ़तियों को गेहूं बेचने का मन बना रहे हैं, लेकिन मुनाफे के चक्कर में आढ़तिये किसानों से निर्धारित मूल्य से कम पर गेहूं बेचने के लिए दबाव बना रहे हैं। इस स्थिति को लेकर जिला प्रशासन भी सशंकित है। विपणन महकमे के डिप्टी आरएमओ ओपी गुप्ता ने बताया कि अगर किसान आढ़तियों को गेहूं बेच रहे हैं तो उन्हें 1285 रुपये प्रति कुंतल के निर्धारित मूल्य से कम पर नहीं बेचना चाहिए। क्योंकि आढ़तियों का कमीशन निर्धारित कर दिया गया है। जब सरकारी एजेंसी पर निर्धारित मूल्य मिल रहा है तो कम कीमत पर गेहूं बेचकर घाटा सहने का क्या मतलब।

इनसेट
कलक्ट्रेट में कंट्रोल रूम
किसान दर्ज कराएं शिकायत
ज्ञानपुर। गेहूं खरीद के दौरान क्रय केंद्रों पर किसानों को होने वाली समस्याओं की जानकारी के लिए जिलाधिकारी ने कलक्ट्रेट में एक कंट्रोल रूप स्थापित कराया है। इसके फोन नंबर 05414-250371 पर फोन कर किसान किसी भी समय अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं। इसके अलावा भदोही तहसील के अंतर्गत आने वाले गेहूं क्रय केंद्रों पर होने वाली समस्याओं के बाबत किसान उप जिलाधिकारी के सेल नंबर 9454416831 और ज्ञानपुर तहसील के अंतर्गत आने वाले क्रय केंद्रों की समस्याओं को उप जिलाधिकारी के सेल नंबर 9454416830 पर फोन कर अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं। औराई के क्रय केंद्रों के किसान उप जिलाधिकारी के मोबाइल नंबर 9454416831 पर फोन कर शिकायत दर्ज करा सकते हैं। डीएम अमृत त्रिपाठी ने कहा कि कंट्रोल रूम में दर्ज शिकायतों पर प्रतिदिन कार्रवाई की जाएगी।
  • कैसा लगा
Write a Comment | View Comments

Browse By Tags

wheat farmers

स्पॉटलाइट

जायरा वसीम के समर्थन में उतरे आमिर, कहा, 'सभी के लिए रोल मॉडल है जायरा'

  • मंगलवार, 17 जनवरी 2017
  • +

फरवरी में 823 साल बाद बनेगा शुभ संयोग, आपको म‌िलने वाला है बड़ा लाभ

  • मंगलवार, 17 जनवरी 2017
  • +

खुद में न सिमटे रहें, मेलजोल बढ़ाने से होंगे ये जबरदस्त फायदे

  • मंगलवार, 17 जनवरी 2017
  • +

जायरा के बारे में वो बातें, जो आप नहीं जानते

  • मंगलवार, 17 जनवरी 2017
  • +

19 को लॉन्च होगा Xiaomi Note 4, जानिए कीमत और खासियत

  • मंगलवार, 17 जनवरी 2017
  • +
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!
Top