आपका शहर Close

पचास फीसदी बच्चों को ही मिली पोलियो खुराक

Badaun

Updated Mon, 05 Nov 2012 12:00 PM IST
बदायूं। जिले में ढाई साल से पोलियो के केस सामने नहीं आए हैं, इससे स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही भी बढ़ गई है। रविवार को इस लापरवाही का नमूना भी सामने आ गया। विभागीय आंकड़ों के अनुसार इस बार सात लाख बच्चों को दवा पिलाने का लक्ष्य तय किया गया था, लेकिन तीन लाख का आंकड़ा ही पार हो पाया। लगभग चार लाख बच्चे पोलियो की दवा पीने से वंचित रह गए।
पल्स पोलियो अभियान के तहत जिलेे में 2448 बूथ बनाए गए थे। इस कार्य में शिक्षकों, शिक्षामित्र, आंगनबाड़ी वर्कर्स, आशाएं, चिकित्सक आदि लगाए गए थे। शासन के आदेश थे कि शत-प्रतिशत बच्चों को पोलियो की दवा पिलाई जाए। रविवार की सुबह आठ बजे पोलियो दवा पिलाने का कार्यक्रम शुरू हुआ जो शाम चार बजे तक चला। शहर के पटियाली सराय, नई सराय, मधुबन कालोनी, रेलवे क्रॉसिंग, रोडवेज-रेलवे स्टेशन के पास बनाए गए बूथों पर दोपहर बाद सन्नाटा छा गया। नियम था कि टोली बनाकर बच्चों को घर से लाकर दवा पिलाई जानी थी, लेकिन ऐसा नहीं किया गया। विभाग के अफसरों ने भी एक-दो बूथों का निरीक्षण कर कागजी कोरम पूरा कर लिया। सूत्रों के अनुसार एक अभियान पर लगभग 30 लाख रुपये व्यय होते हैं।
वर्जन---
तीन लाख से अधिक बच्चों को पोलियो दवा पिलाई गई है। अभियान में छूटे बच्चे को कर्मचारी घर-घर जाकर दवा पिलाएंगे।-डा. आरएन हरित, एसीएमओ प्रतिरक्षण
-------
पोलियो अभियान की सत्यता जांचने आई विदेशी टीम
बदायूं। इंडिया पोलियो फ्री हो चुका है, फिर भी कहीं पेंच न रहे। इसलिए अभियान की सत्यता को विदेश से टीम आई है। मालूम हो कि यहां पहले बड़ी संख्या में पोलियो के केस मिले थे। रविवार को इंग्लैंड से आई रोटरी इंटरनेशनल की नौ सदस्यीय टीम ने कादरचौक, दातागंज और म्याऊं में बूथ सपोर्ट कर नौैनिहालों को पोलियो ड्रॉप पिलाकर उपहार दिए।
रविवार को मिस लैबेरी के नेतृत्व में रोटरी इंटरनेेशनल की नौ सदस्यीय टीम जनपद पहुंची। यहां आने के लिए टीम के तीन-तीन सदस्यों की टीम ने कादरचौक, दातागंज और म्याऊं में बूथ सपोर्ट किया। रोटरी के सदस्यों ने बूथ पर आने वाले पांच साल तक के बच्चों को पोलियो ड्रॉप पिलाकर उपहार दिए।
बूथ सपोर्ट के बाद टीम सीएमओ ऑफिस पहुंची। यहां कुछ देर रुकने के बाद टीम के सदस्य ब्लूमिंग्डेल कालेज में चल रहे वार्षिक समारोह में शामिल हुए। टीम सोमवार को बिसौली में स्वास्थ्य विभाग की हाउस टू हाउस टीमों के साथ जाकर सर्वे करेगी।
पोलियो दवा पिलाने को बनाई थी टोलियां
बदायूं। सैय्यद मुनव्वर अली मेमोरियल कन्या जूनियर हाईस्कूल के स्टाफ ने बुलावा टोली बनाकर 0 से पांच साल तक के बच्चों को पोलियो खुराक पिलाने में मदद की। यह टोलियां सोथा, नई बस्ती, जुम्मी चौक, कादरी कालोनी, जामा मस्जिद आदि मोहल्लों में गईं। विद्यालय के पोलियो बूथ पर 108 बच्चों को दवा पिलाई गई। एमडीएम के अंतर्गत भोजन भी दिया। प्रधानाध्यापक शगुफ्ता खातून, आभा रानी, नुसरत जहां, असमत जुबैरी, मुताहिर अली, शाह मुहम्मद आदि रहे।
वार्ड नंबर 14 स्थित पूर्व भवन में पोलियो दवा पिलाई गई। इस मौके पर सीएमसी जहांआरा, आशा, संध्या, दरख्शां आदि रहीं।

ककराला। पल्स पोलियो अभियान के अंतर्गत कस्बा के विभिन्न बूथों पर आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों ने पोषाहार वितरण कर पोलियो दवा पिलवाने में मदद की। इसमें कुसुम, सायरा बानो, अजरा खानम, अजरा खानम आदि शामिल रहीं।
Comments

Browse By Tags

polio doses

स्पॉटलाइट

मुफ्त में देश घूम आया इलाहाबाद का युवक, तरीका बेहद अनोखा

  • बुधवार, 18 अक्टूबर 2017
  • +

अरशद वारसी ने Bigg Boss 11 को बताया 'डाउन मार्किट', बोले-TRP के लिए परोस रहे गंदी चीजें

  • बुधवार, 18 अक्टूबर 2017
  • +

दिवाली 2017: इस त्योहार घर को सजाएं रंगोली के इन बेस्ट 5 डिजाइन के साथ

  • बुधवार, 18 अक्टूबर 2017
  • +

पुरुषों में शारीरिक कमजोरी दूर करती है ये सब्जी,जानें इसके दूसरे फायदे

  • मंगलवार, 17 अक्टूबर 2017
  • +

Bigg Boss 11: घर से बेघर हुई लुसिंडा का बड़ा खुलासा, कहा- हर समय KISS मांगता था आकाश

  • बुधवार, 18 अक्टूबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!