आपका शहर Close

चंडीगढ़+

जम्मू

दिल्ली-एनसीआर +

देहरादून

लखनऊ

शिमला

उत्तर प्रदेश +

उत्तराखंड +

जम्मू और कश्मीर +

दिल्ली +

पंजाब +

हरियाणा +

हिमाचल प्रदेश +

छत्तीसगढ़

झारखण्ड

बिहार

मध्य प्रदेश

राजस्थान

बस्ते के बोझ से दब रहा बचपन

{"_id":"119-52956","slug":"Badaun-52956-119","type":"story","status":"publish","title_hn":"\u092c\u0938\u094d\u0924\u0947 \u0915\u0947 \u092c\u094b\u091d \u0938\u0947 \u0926\u092c \u0930\u0939\u093e \u092c\u091a\u092a\u0928"}

Badaun

Updated Wed, 10 Oct 2012 12:00 PM IST
बदायूं। हाल ही में दिल्ली के एक स्कूल से बच्चे की मौत रेलिंग से गिरकर इसलिए हो गई कि उसका बैग भारी था। ऐसी घटनाओं के बाद भी कांवेंट स्कूल सीख नहीं ले रहे हैं। वह बराबर बच्चों से किताबें और कॉपियां मंगवा रहे हैं। इससे उनके बस्तों का बोझ बढ़ रहा है। इनको पीठ पर लाद कर यह बच्चे हांफते हुए स्कूल पहुंचते हैं।
जिले में सीबीएसई, आईसीएसई और अन्य बोर्ड से मान्यता प्राप्त कांवेंट स्कूलों की संख्या लगभग 300 है। नियम है कि कक्षा एक-दो के बच्चों से होमवर्क नहीं कराया जाना चाहिए। कक्षा तीन के बच्चे के बैग का वजन चार किलो से अधिक नहीं हो। इसके अलावा कक्षा चार-पांच के बच्चे अपने वजन का चौथाई उठा सकते हैं, लेकिन बैग इससे कई गुना भारी हो रहा है। हर दिन बच्चे पसीना छोड़ रहे हैं। स्कूल संचालकों को इसकी परवाह नहीं है। नियमों का पालन कराने वाले अफसर भी मौन हैं।
आलमारी में रखवाते हैं किताबें
ब्लूमिंगडेल स्कूल के प्रधानाचार्य एनके तिवारी कहते हैं कि उनके यहां एडकॉम सिस्टम से पढ़ाई कराई जा रही है। इससे बच्चे के बैग का वजन ही नहीं बढ़ सकता। कॉपी-किताबें स्कूल में बच्चों की रखवाई जाती हैं। एक-दो किताबें ही उन्हें घर के लिए दी जाती हैं। फ्लोरेंस नाइटिंगेल स्कूल की प्रबंधक सरला स्वरुप का कहना है कि उनके यहां हर बच्चे की अलग आलमारी है। लॉक सिस्टम है। बच्चे स्कूल में पढ़कर घर जाते समय किताबें उनमें रखकर जाते हैं। मदर ऐथीना स्कूल, डीपॉल स्कूल, महर्षि विद्या मंदिर और बीआरसी आदि स्कूलों के संचालकों का भी यही कहना है।


कॉपियां अधिक मंगवाते हैं
टिकटगंज निवासी ज्योति का कहना है कि उनका बच्चा कक्षा दो का छात्र है। उसके बैग का वजन चार किलो से ऊपर है। कहती हैं कि स्कूल प्रशासन हर दिन कॉपियां अधिक मंगवा रहा है।
------
क्या करें मजबूरी है
पंजाबी चौक निवासी रिंकी सक्सेना का बेटा भी कक्षा दो में पढ़ रहा है। कहती हैं कि बच्चे के बैग का वजन अधिक है, लेकिन स्कूल प्रशासन के आदेशों के नीचे दबे हुए हैं।
-----
मांस-पेशियों में आता है खिचाव
बाल रोग विशेषज्ञ डा. शरद गुप्ता का कहना है कि बच्चे अपने वजन का चौथाई भार उठा सकते हैं। यदि वजन अधिक हुआ तो मांस-पेशियां खिचती हैं। शरीर की बनावट प्रभावित होती है। बच्चे के खड़े होने और बैठने की क्षमता भी प्रभावित होती है। जोड़ों में दर्द भी होता है।
वर्जन---
सीबीएसई और आईसीएसई बोर्ड के स्कूल हमारे अधीन नहीं आते। जिन विद्यालयों ने विभाग से मान्यता ली है यदि उनके बच्चों के बैग का वजन बढ़ रहा है तो इसके लिए संचालकों से वार्ता की जाएगी कि वह जरुरी किताबें ही मंगवाएं।-कृपाशंकर वर्मा, बीएसए
  • कैसा लगा
Write a Comment | View Comments

Browse By Tags

स्पॉटलाइट

{"_id":"5847ec014f1c1b2434448797","slug":"negative-energy-reason-vastu-dosha","type":"photo-gallery","status":"publish","title_hn":"\u0924\u092c \u0918\u0930 \u092e\u0947\u0902 \u092c\u0941\u0930\u0940 \u0906\u0924\u094d\u092e\u093e\u0913\u0902 \u0915\u093e \u0938\u093e\u092f\u093e \u092e\u0939\u0938\u0942\u0938 \u0939\u094b\u0928\u0947 \u0932\u0917\u0924\u093e \u0939\u0948","category":{"title":"Vaastu","title_hn":"\u0935\u093e\u0938\u094d\u0924\u0941","slug":"vastu"}}

तब घर में बुरी आत्माओं का साया महसूस होने लगता है

  • बुधवार, 7 दिसंबर 2016
  • +
{"_id":"5847f9f04f1c1bfd64448f7a","slug":"himesh-reshammiya-files-for-divorce-from-wife-of-22-years","type":"photo-gallery","status":"publish","title_hn":"\u0907\u0938 \u091f\u0940\u0935\u0940 \u0939\u0940\u0930\u094b\u0907\u0928 \u0915\u0947 \u0932\u093f\u090f \u0939\u093f\u092e\u0947\u0936 \u0930\u0947\u0936\u092e\u093f\u092f\u093e \u0928\u0947 \u0924\u094b\u0921\u093c\u0940 22 \u0938\u093e\u0932 \u0915\u0940 \u0936\u093e\u0926\u0940","category":{"title":"Bollywood","title_hn":"\u092c\u0949\u0932\u0940\u0935\u0941\u0921","slug":"bollywood"}}

इस टीवी हीरोइन के लिए हिमेश रेशमिया ने तोड़ी 22 साल की शादी

  • बुधवार, 7 दिसंबर 2016
  • +
{"_id":"5847eb914f1c1be3594493c3","slug":"fitoor-part-got-chopped-off-due-to-katrina","type":"photo-gallery","status":"publish","title_hn":"'\u0905\u0928\u0932\u0915\u0940 \u0939\u0948 \u0915\u0948\u091f\u0930\u0940\u0928\u093e, \u0909\u0938\u0928\u0947 \u092e\u0947\u0930\u093e \u0915\u0930\u093f\u092f\u0930 \u0926\u093e\u0902\u0935 \u092a\u0930 \u0932\u0917\u093e \u0926\u093f\u092f\u093e'","category":{"title":"Television","title_hn":"\u091b\u094b\u091f\u093e \u092a\u0930\u094d\u0926\u093e","slug":"television"}}

'अनलकी है कैटरीना, उसने मेरा करियर दांव पर लगा दिया'

  • बुधवार, 7 दिसंबर 2016
  • +
{"_id":"5847e8be4f1c1be1594494d8","slug":"teeth-can-tell-about-your-love-life","type":"photo-gallery","status":"publish","title_hn":"\u0926\u093e\u0902\u0924 \u0916\u094b\u0932 \u0926\u0947\u0924\u0947 \u0939\u0948\u0902 \u0906\u092a\u0915\u0940 \u0932\u0935 \u0932\u093e\u0907\u092b \u0915\u0940 \u092a\u094b\u0932, \u091c\u093e\u0928\u093f\u090f \u0915\u0948\u0938\u0947","category":{"title":"Relationship","title_hn":"\u0930\u093f\u0932\u0947\u0936\u0928\u0936\u093f\u092a","slug":"relationship"}}

दांत खोल देते हैं आपकी लव लाइफ की पोल, जानिए कैसे

  • बुधवार, 7 दिसंबर 2016
  • +
{"_id":"5847e9df4f1c1bf959449384","slug":"facts-about-labour-pain","type":"photo-gallery","status":"publish","title_hn":"\u0932\u0947\u092c\u0930 \u092a\u0947\u0928 \u0938\u0947 \u091c\u0941\u0921\u093c\u0940 \u092f\u0947 \u092c\u093e\u0924\u0947\u0902 \u0928\u0939\u0940\u0902 \u091c\u093e\u0928\u0924\u0947 \u0939\u094b\u0902\u0917\u0947 \u0906\u092a !","category":{"title":"Fitness","title_hn":"\u092b\u093f\u091f\u0928\u0947\u0938","slug":"fitness"}}

लेबर पेन से जुड़ी ये बातें नहीं जानते होंगे आप !

  • बुधवार, 7 दिसंबर 2016
  • +
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!
Top